संदेश

September 19, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

लाखो रूपये की बचत करे'

चित्र
दोस्तो आप बिचार करे तो आप अवश्य ही यह केलकूलेशन कर सकते हे'की हमारी मेहनत की कमाई का बहुत बडा भाग हमरे परिवार पर {बीमारी के दोरान}उनके ईलाज पर खरच हो जाता है। दोस्तो अगर हम इसी पैसे की बचत करले और बिमारियो से बचने के विकल्प खोजले तो हमे 100बरस की आयू एवं लाखो रुपये की बचत का अवशर मिल सकता है।
देखिए अगर आप हर साल बिमारी के खर्च का दस हजार रूपया बचाएगे तब सो बरस में10लाख यू ही वच जाएगे।
दोस्तो मे धन कमाने से आधिक धन बचाने पर गोर करता हू। आप विश्वास नही मानेगे' मेरा अपना परिवार का खर्च बीमारी या इलाज दबाईयो आदि के नाम पर जिरो है। केसे आईए जाने_लोग धन कमाने के जुनून मे अपनी शेहत पर ध्यान नही देते और उसे ख़ देते है। और फिर बापस अपनी शेहत पाने के चक्कर मे अपना कमाया हुआ रुपया भी खो बैठते है
 [1]स्वास्थ ही पैसा है।
दोस्तो आपने अंग्रेजी की हय कहावत तो सुनी होगी 'हेल्थ इज़ दा बैल्थ' जो बिल्कुल सही है। दोस्तो यह मे आपने मन से नही लिख रहा हू। यह हमारे विचारको का मानना है। आज तक के इतिहास मैं आयूरबेद के दो ही बिख्यात रिशी हुए है। महारिशी चरक जिन्होने 'चरक सहिता 'नामक '…