सोमवार, 28 दिसंबर 2015

सोना बनाने की तकनीक ।

सोना
इस जगत मे मनुष्य के लिए कुछ भी करना संभव है ।भारत प्राचीन काल से ही खोज के मामले मे विश्व मे आगे रहा है । जव भारत को सोने की चिडिया कहा जाता था उस समय भारत मे अटूट सोना था।आज भी भारत मे सोने के खजाने है ।पर  इतना सोना भारत मे आया कहॉ से होगा ।जरूर उस समय भारत मे सोना बनाने की कृतिम तकनीके विकसित रही होगी ।जिनसे सोना बनाया जाता होगा ।
सोना बनाने की प्राकृतिक बिधि -इस बिधि की जानकारी कुछ  इस प्रकार मिलती है कि सोना मिट्टी या सुन्हरी रेत' जो कही कही जमीन पर पाई जाती है ' जिसमे सोने के कण होते है ।एसी रेत या मिटटी से प्रक्रियाओं के दुआरा सोने के कण  अलग करके सोना बनाया जाता है । टनो मिटटी साफ करने पर  एकाध तोला सोना बनता है ।
दूशरी सताब्दी मे जन्मे रसायनाचार्य नागार्जुन रचित पुस्तक 'रसरत्नाकर' मे रसायनो के प्रयोग से धातुओं को दूसरी धातुओं मे बदलने की बिधियॉ बताई गई है । जिनमें बिभिन्न धातुओं को सोना' चॉदी' रजत' मे बदलने का भी उल्लेख मिलता है । कुछ  और ग्रंथो मे भी सोना बनाने संबंधी जानकारीयॉ मिलतीं है ।लेकिन पुरानी संस्कृत भाषा मे श्लोक होने से शब्दों का सही सही अर्थ निकाना कठिन है । मोटे अर्थ मे सोना बनाने की आधी अधूरी कुछ  इस प्रकार मिलती है ।जिसमें_ पारा ' गंधक ' और किन्हीं रसायन को आग मे तपाया जाता है ।और पारे को ठोस करने की कोशिश की जाती है ' जिसमे रसायन पारे को उडने से रोकते है और गंधक पारे को आपना पीला रंग देता है ।
वैज्ञानिकों दुआरा भी एसी पुष्टि की जाती है कि रसायनो के प्रयोग से धातुओं मे परिबर्तन करना संभव है ।जो भी हो पर यह कृयाए काफी कठिन और जटिल होती है ' जिनहे करने मे पूरा जीवन भी गुजर सकता है । और कूछ लोगो के बारे मे एसे प्रमाण भी मिलते है जिन्होंने सोना बनाने के चक्कर मे अपना पूरा जीवन ही खपा दिया फिर भी सफल नही हुए ।





पुराने लेखों मे पारस पत्थर का भी उल्लेख मिलता है ।कि इस पत्थर से लोहे को सोने मे बदला जाता है ।पर यह पत्थर क्या होता है कैसा होता है । इस विषय मे स्पष्ट जानकारी नहीं मिलती ' कोई कहता है कि हिमालय मे पाया जाने वाला सफेद पत्थर ही पारस होता है ।पारस शब्द पारद यनि पारा से बना है ।इसलिए 'पारस पत्थर' पारे का ही ठोस रूप होना चाहिए ।

Seetamni@gmail. com
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

रबर बलून विजनस 500₹ से शुरू ।

गु व्वा रे 🎈💃 रबर बलून से तो सभी परिचित है जिनहे फुग्गा और गुब्बारा भी कहा जाता है । हम सभी ने अपने बचपन मे जरूर गुब्बारे खेले होगे ।गुब...