संदेश

December 8, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सेन्ट्रल बैंक की एक महाभृष्ट साखा ।

हम आपको सेन्ट्रल बैंक अॉफ  इंडिया की एक  एसी साखा की जानकारी दे रहे है । जिसके बारे मे जानकर  आपको आश्चर्य होगा की देश मे इस तरह की बैके भी है ।
सेन्ट्रल बैक की यह साखा मध्य प्रदेश के रायसेन जिले की सुल्तानपुर तहसील के पास गॉव  'ईटखेडी ' मे स्थित है ।इस बैंक ब्रांच के अधिकंश ग्राहक  अनपढ गोड  आदिवासी है जो वन  अंचल के ग्रामीण है ।इसलिए यह बैंक  इन लोगो का भरपूर  शोषण कर रही है ।इस बैक मे लोगो को बैठने तक की कोई उचित व्यावस्था तक नही है ।लोग बैक के बाहर धूप मे खडे रहते है उपर से बैक वाले इन लोगो कू साथ बदतामीजी भरा बरताव करते है ।चपरासी से लेकर बीसी और केशियर यहा तक की बैक मेनेजर भी भृष्ट है ।इस बैंक मे लोगो का कोई भी काम बगेर रिस्वत लिए नही किया जाता है ।यहाँ तक तो ठीक ही है पर  इस बैंक के कुछ खातेदार तो एसे है जिनहे उनका खाता नं तक पता नही है 'बैक वालो ने जानबूझकर  इन लोगो को उनका खाता नं नही दिया है पासबुक देने की बात तै दूर है ।इह तरह के ग्राहको मे अधिकतर बृधा पेशन भोगी है । जिनकी पेशन का सारा रुपया बैंक कर्मचारी डकार रहे है ।बृध्दजन  अपनी पेंशन लेने बैंक जाते है तो बै…

कैरोसीन का दुरुपयोग ।

कैरोसीन ' घासलेट ' मिट्टी का तेल ' जिसे गॉव की भाषा मे चिमनी का तेल भी कहा जाता है । यह तरल  ईधन कुछ साल पहले घरेलू ईधन के रूप मे उपयोग किया जाता था । इसका उपयोग स्टोव  और चिराग जलाने मे होता था । पर  अब समय के साथ स्टोव  और चिराग लुप्त हो गए है ।अब  इनके स्थान पर गैस चुल्हे और बल्ब आ गए है ।और  अब घरों मे मिट्टी के तेल की कोई उपयोगिता नही रही ।
सरकारी उचित मूल्य की दुकानो पर राशन के साथ मिलने वाले कैरोसीन की कालाबाजारी होती है ।यह कैरोसीन  उचित मूल्य की दुकानो से ही रातो रात थोक मे बिक जाता है ।किसी किसी महिने राशन कार्ड पर भी कैरोसीन लोगो को मिलता है ' जिसे लोग  अपने घरो मे स्टोर करके रखते है और फिर  इस कैरोसीन को लोग दुगने दामो पर ट्रेक्टर बालो को बेच देते है । इस सारे कैरोसीन का दुरुपयोग ट्रेक्टरो और पानी के पंप चलाने मे होता है । कैरोसीन किसानो को बिलेक मे भी डीजल से आधे रेट पर मिल जाता है ।डीजल के मुकावले मे कैरोसीन ट्रेंक्टरो और पानी के पंपो मे थोडा जादा जरूर जलता है फिर भी किसानो को कैरोसीन से पंप  आदि चलाने मे फायदा होता है ।
घरो मे मिट्टी के तेल का दुरुपयोग  …