शनिवार, 31 दिसंबर 2016

असली और नकली गॉधी परिवार ।

महात्मा गांधी के परिवार के बारे मे बहुत कम लोग जानते है ।अभी भी कुछ ग्रामीण जन तो यह समझते है की महात्मा गांधी की कोई संतान ही नही थी । और कुछ लोग जिनकी पहुच  इंटरनेट तक नही है वे इंदरा गांधी को ही बापू की पुत्री समझते है ।
मोहनदास गाधी का असली परिवार ।
महात्मा गांधी यानी मोहनदास गांधी की पत्नी कस्तूरवा गांधी थी । और  उनके चार पुत्र थे 'हरीलाल गांधी ' रामदास गांधी ' देवदास गांधी 'और मणिलाल गांधी । हरीलाल महात्मा गांधी के बडे बेटे थे । जो इतिहास मे बदनाम है ।कहा जाता है की हरीलाल गाधी शराबी थे । विकीपेडिया पर हरीलाल गांधी का फोटो है जिसे देखकर यह  अंदाजा लगता है की यह  अदमी नशे मे है ।  हरीलाल  इंग्लैंड जाना चाहते थे उच्च शिक्षा के लिए और बापू की तरह ही बकील बनना चाहते थे ' पर बापू ने उन्हें एसा करने से रोका था । जिससे हरीलाल कुंठित होकर बापू के कट्टर बिरोधी हो गए । बापू भी हरीलाल को अपना पुत्र नही मानते थे । बापू ने एक पत्र मे लिखा था की हरीलाल तुम मुझे सच वताओ क्या तुम  अभी भी शराव  और व्यभिचार मे लिप्त हो यदि एसा है तो मे चाहता हू की तुम मर जाओ । हरीलाल गांधी ने भी किसी पत्र मे लिखा था " जिसे लोग राष्टपिता मानते है वेहतर होता यदि वह मेरा पिता ना होता "  हरीलाल गांधी के चरित्रहीन होने और बापू बिरोधी होने के कारण ही असली गांधी परिवार को इतिहास मे संमानपूर्ण स्थान नही मिला । और  उनके पुत्र राजनीती मे भी नही आए ।बापू के पुत्र तो अब  इस संसार मे नही रहे पर बापू के नाती पोतो मे लगभग 50 सदस्य  अभी मोजूद है ।जिनमें से अधिकार गांधी परिवार के लोग विदेशों मे है बाकि भारत के बिभिन्न शहरो मे रहते है । बापू के परिवार के सबसे जादा पहचाने जाने वाले व्यक्ति बापू के सुपुत्र तुषार गांधी है जो कभी कभी टीवी पर  आते है । तुषार गांधी मुंबई मे रहते है ।
महात्मा गांधी के परिवार के बारे मे विस्तार से पढने के लिए navbhrattimes.indiatimes.comपर जाए ।
नकली गांधी परिवार का खुलासा ।
नकली गांधी परिवार के जन्मदाता पं जवाहर लाल नेहरू थे । जिनहोने यह राजनितिक षडयंत्र रचा था । पं नेहरु की पुत्री इंदिरा प्रियदर्शिनी नेहरू थी जिसने फ़िरोज खान से शादी की थी और शादी के बाद  उनका नाम मेमुना बेगम हो गया था ।परंतु पं नेहरू ने अपने दामाद  और बेटी को गांधी उपनाम का जामा पहना दिया । यह नेहरु की ही चालवाजी थी भारतवासीओ को उल्लू बनाने के लिए । इस षडयंत्र के तहत भारतियो को गुमराह करके नेहरु के बाद  इंदिरा इंदिरा गांधी बनकर भारत की प्रधानमंत्री रही । उनके बाद  उनके बेटे रोबेर्तों  राजीव गांधी बनकर भारत के प्रधानमंत्री बने । इसके बाद  राजीव की पत्नी 'एंटोनिया माईनो ' जो एक  इटालियन  इसाई है । सोनिया गांधी बनकर भारत की जनता को वेबकूफ बनाया । अव रॉल राहूल गाधी बनकर लोगो को गुमराह कर रहे है । इस परिवार के सदस्यों ने गांधीजी के  उपनाम गांधी का भरपूर लाभ  उठाया और बहुत लंबे समय तक भारत पर राज किया । और भारत के लोगो को खूब  उल्लू बनाया है । विकाश के नाम पर  अपनी ही बिल्डिग  उची की है ।
नकली गांधी परिवार  एवं नेहरू के षडयंत्र के बारे मे विस्तार से जानने के लिए ' सुदेश शर्मा के फेसबुक पेज m.facebook.com पर जाए ।

रबर बलून विजनस 500₹ से शुरू ।

गु व्वा रे 🎈💃 रबर बलून से तो सभी परिचित है जिनहे फुग्गा और गुब्बारा भी कहा जाता है । हम सभी ने अपने बचपन मे जरूर गुब्बारे खेले होगे ।गुब...