संदेश

January, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

दुकान से दुगनी कमाई करने का तरीका ।

दुकान चलाने का फंडा -दुकान चलाने के आम तरीको से जितनी कमाई होती है ।उससे दुगनी कमाई इस फंडा से होती है । हर दुकानदार यही चाहता है की उसे अपनी दुकान से आधिक से अधिक आय हो पर कैसे ?
एक गॉव मे रोड पर बस स्टाफ के पास  एक बडी किराना स्टोर है जहाँ स्टेशनरी अदि सामान भी मिलता है ।वहाँ पर लिखा है "कृपया ग्राहक छुट्टे रुपये दे " एक यात्रा के दोरान मे उस दुकान पर पहुचा ओर मेने वहॉ से एक लीडपेन खरीदा और दुकानदार को बीस रुपये का नोट दिया 'तो वह दुकानदार कहने लगा भैया छुट्टा नही है आप  एक पेन  और ले लीजिए आप के बीस रुपए पूरे हो जाएगे । तब मेने एक पेन  और खरीद लिया । मे कुछ देर  उस दुकान पर रुका और मेने देखा की हर  अजनवी ग्राहक के साथ  एसा ही किया जा रहा था । एक वस्तू खरीदने पर वह दुकानदार छुट्टे रुपये ना होने के वहाने से लोगो को दो वस्तुए बेच रहा था । पर  उसी गांव के स्थानीय लोगो के साथ  एसा नही करता था वह दुकानदार क्योकि वह  उसके नियमित ग्राहक थे ।मेरे सामने उसी गांव की एक लडकी ने उस दूकान से दस रुपए के चॉकलेट खरीदे और बीस का नोट दिया तो दुकानदार ने उस लडकी को तुरंत दस का नोट वापस क…

यह मेरे भारत की पहचान ।

जिसके नाम ' आर्यवर्त ' इंडिया ' भारत और हिन्दुस्तान "
यह मेरे भारत की पहचान "

जिसकी भाषा हिंदी ' धर्म हिंदू ' सागर हिंद और  नाम हिन्दुस्तान "
 यह मेरे भारत की पहचान "

जहाँ के भगवन ' राम ' कृष्ण ' महावीर    ओर बुध भगवान "
 हय मेरे भारत की पहचान "

जहाँ थे जन्मे ' वाली ' रावण ' भीम  और महावली हनुमान "
यह मेरे भारत की पहचान "

जिसके दानी ' कर्ण ' हरीश्रचंद्र 'राजा वली ओर मोरतधव्ज का महादान "
 यह मेरे भारत की पहचान "

यहॉ के उत्सव ' होली ' दिवाली 'दशहरा और रक्षाबंधान "
यह मेरे भारत की पहचान "

जिसकी बुलंदी ' कुतुम्बमीनार ' ताजमहल 'अजता और लालकिले सी शान "
यह मेरे भारत की पहचान "

जिसके अंग ' सिर श्रीनगर 'नाक नागपुर ' दिल दिल्ली और मुम्बई मेरी जान "
यह मेरे भारत की पहचान "

जिसका चिन्ह ' मोर 'शेर 'कमल का फूल  और तिरंगा निसान " 
यह मेरे भारत की पहचान "
🌷🚜🌷⛺🎌💗👳जय किसान👳

नकली अॉवला केश तेल की सच्चाई ।

चित्र
🍏अॉवला बहुत गुणकारी होता है । इसलिए अॉवला केश तेल को भी लोग बालो के लिए बहुत लाभदाक समझकर  इसका खूब उपयोग करते है 'खासकर महिलाए । पर लोग यह नही जानते की यह तेल बालो के लिए हानिकारक है ।और  इसका अॉवला से कोई संबंध नही है । क्योंकि अॉवला फल या अॉवले के पेड के किसी भी भाग मे तेल नहीँ पाया जाता है । जो केश तेल  अॉवला तेल के नाम से बाजार मे मिलते है वह सब नकली है ।
यह तेल कच्चे तेल जिससे केरोसिन  आदि बनते है ' इससे बनने वाले वहाइट  अॉयल मे कलर  और  अॉवला की कृत्रिम सुगंध  आदि मिलाकर रसायनो से तैयार होता है । यह तेल केरोसीन जैसे ज्वलनशील होते है । तभी तो यह बालो मे लगाने के कुछ देर बाद  उड जाते है ।
कृत्रिम कंपाउन्ड सुगधियॉ _ जिस तरह से दो या दो से अधिक रंगों को आपस मे मिलाने पर  एक तीसरा रंग बन जाता है । ठीक  उसी प्रकार दो या दो से अधिक सुगंधो को मिलाकर नई नई कृत्रिम कंपाउन्ड सुगंधे बनाई जाती है । इसीलिए तो कुछ सुगंधे प्रकृती के किसी भी फूल और पेड पौधों की सुगंध जैसी नही होती है ।
अॉवला की सुगंध का कंपाउन्ड किसी कंपाउन्डर ने बनाया होगा । इस कंपाउन्ड की गंध अॉवला जैसी बनी होगी इसलिए…

सिनेमा और टीवी इतिहास के सुन्हरे पल ।

चित्र
केमरा का सबसे पहला आविष्कार इराकी बैज्ञानिक 'इब्न  अल हुजैन ' ने सन 1015 से1021 के बीच किया था । इसके बाद केमरा विकास करते करते आज हर मोवाइल फोन सेट मे आने लगा है ।
भारत मे सिनेमा का आरंभ ।
1886 मे भारत मे सिनेमा की शुरूवात हुई ।जब बंबई के एक हॉटल मे ल्यूमेरे ब्रर्दस ने कुछ चलचित्रो का प्रदर्शन किया था । दादा सहिव फालके ने पहली मूक फिल्म 'राजा हरिश्रचंद्र' बनाई । जिसे 1913 मे दिखाया गया था । इसके बाद भारत मे मूक फिल्मे बनने का चलन  आरंभ हुआ । 1930 मे भरत मे पहली बोलती फिल्म ' आलम  आरा ' बनी जो उरदू भाषा मे थी इसे 1930 मे दिखाया गया था । आलम  आरा का निर्देशन  अर्देशिर  इरानी ने किया था । 1937 मे रिलीज हुई भारत की पहली रंगीन फिल्म ' किसान कन्या ' इस फिल्म के निर्माता अर्देशिर  इरानी थे । किसान कन्या हिंदी भाषा मे पहली रंगीन मूवी थी । इसके बाद बहुत सी फिल्मे बनी ।
शोले _15 अगस्त 1975 मे भारत की सबसे सुपर हिट फिल्म शोले आई । इस फिल्म के निर्माता निर्देशक जे पी शिप्पी और  उनके पिता रमेश शिप्पी थे । इस फिल्म ने सफलता की बुलंदी को छुआ । शोले के मुख्य आदाकारो मे…

सफलता की चाबी ।

दुनिया मे सफलता सभी चाहते है । पर बहुत कम लोग ही सफल होते है बाकी असफल रहते है आखिर एसा क्यों होता है ? इसका उत्तर पाने और सफलता की चाबी ढूंढने के लिए ' सफलता और  असफलता पर दुनिया मे बहुत शोध हुआ है । जिसके परिणाम मे जो बात निकल कर सामने आई वह यह है की कुछ उसुलो को बार बार  अमल मे लाने का नतीजा ही सफलता होती है । वे उसूल  एवं गुर सूत्र है जैसे _ कडी मेहनत ' लगन ' गहरी इच्छा ' निरंतरता ' हर  आदमी को खुश न करना ' साकारात्मक नजरिया और  अवसर की पहचान  आदि ।
अवसर की पहचान
किसी भी काम का योग बनाने मे समय  और मेहनत लगती है ।पर कभी कभी  कुदरती योग बनता है ।जो किसी काम को पूरा करने का स्वर्णिम  अवसर होता है । हमे उस  अवसर को पहचान कर  उसका लाभ लेने की जरूरत होती है ।  कभी कभी अवसर बाधा के रूप मे भी आते है । हमारे पास  अवसर को पहचानने की नजर होनी चाहिए ' विचारको के अनुसार हर समस्या अपने साथ कोई ना कोई अवसर जरूर लाती है । अवसर समस्या के बराबर या उससे बडा छोटा भी हो सकता है । एक बात  और हर दूशरा अवसर ठीक पहले अवसर जैसा कभी नही आता भले ही वह पहले अवसर से और भी बेहतर क्य…

एक पनहारी लगे बडी प्यारी ।

एक पनहारी लगे बडी प्यारी ' जब पनघट पे आए जाए ।

हाथ मे गगरा कमर से कसेंडी चिपकाए
घर से निकले पनहारी पनघट को जाए ' एक पनहारी____

गेरो को देख मुह पर परदा गिराए
अपने प्रेमी को मुखडा दिखाए ' एक पनहारी ________

कुआ बावडी की रोंनक बढाए
नल नदिया के भाग्य जगाए ' एक पनहारी ______

 राह मे मनचले मसखा लगाए
कभी पवन पल्लू उडाए ' एक पनहारी ________

 जब पनहारी घडा सिर पर  ऊठाए
भरा घडा सीने से लग लग जाए ' एक पनहारी_____

 कुए पर बरतन नहलाए
प्यासे पथिको को पानी पिलाए 'एक पनहारी _______

कलश सिर पर रखे डगर मे खडी दिखाए
पनहारी सखिन संग घंटों तक बतियाए ' एक पनहारी लगे बडी प्यारी जब पनघप पे आए जाए ।
🍯🍯🍯🎎🎎👙👙👙💗💙💚💋👱👰👸👰👱👸👩👩👩

बूढे ' जवान कैसे बने ?

चित्र
मनुष्य के जीवन मे बच्पन  जवानी बुढापा और मृत्यु आना कुदरत का नियम है । पर बुढापे से आदमी डरता है वह बुढापे से बचना चाहता है । उसकी यह चाह रहती है की वह हमेशा जवानी मे ही जीता ' लेकिन समय के सफर मे पीछे जाना असंभव है । आदमी का मन तो सदा जवान ही रहता है पर 40 साल की आयू के बाद शरीर बूढा होने लगता है । अब  आदमी के पास बुढापे से बचने के दो ही उपाय होते है । व्यायाम और मेकअप इन तरीको से आदमी बुढापे मे भी अपने आप को जवान बनाए रख सकता है ।
उदाहरण के लिए फिल्म स्टारो को ही देख लीजिए ' फिल्मी सितारे बूढे होने पर भी मेकअप मे जवान दिखाई देते है ।
बुढापे के लक्षण _ सिर के बाल सफेद होना ' चहरे पर झुररियॉ ' गालो मे गड्ढे होना ' टूटे हुए दाँत आदि बुढापे के संकेत होते है ।
बूढे ' जवान कैसे बने ?
 शरीर मे बुढापे के संकेत आने पर व्यक्ति को नियमित व्यायाम करना चाहिए एवं खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए साथ ही महिने मे दो बार  अपने फेमली डॉक्टर से शरीर की जाँच कराना चाहिए ।
मेकअप _जवान दिखने के लिए शरीर की सजावट बहुत जरूरी होती है ।इसलिए सबसे पहले सिर के बालो को छोटा रखे और  उन्हें …

सबकुछ नया नया है ।

🎇 नया दिवस है नया माह है नया साल है '
हर पल नया नया है ' सबकुछ नया नया है ।

🌙नए तारे है नया चॉद है नया रवि है ' 
हर पल नया नया है '-----------------------

🌳नए पौधे है नई लता है नए पेड है ' 
हर पल नया नया है '-----------------

🌸 नई कलियॉ है नए फूल है नया पराग है ।
हर पल नया नया है '--_-_____-----------

🚣 नया नीर है नई हवा है नई धूप है 
हर पल नया नया है '------------------

🌃 नई जमी है नया गगन है नया अंतरिक्ष है ।
हर पल नया नया है '-----___----------------

🌄 नई शाम है नई रात है नई सुबह है '
हर पल नया नया है ' सबकुछ नया नया है ।
💏💏💏💏💏💏💏💏💏💏💏💏💏💏💏💏