संदेश

September 18, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बालू रेत के रंगीन पत्थर ।

चित्र
नदियों की बालू रेत मे पाए जाने वाले चमकदार  और रंगीन पत्थर सबका मन मोहते है खासकर बच्चों के लिए तो यह रंगीन पत्थर हीरे मोती के बराबर होते है ।हम भी जब कभी नदियों मे नहाने जाते है और नरम रेत पर बैठते है तब हम भी इन पत्थरो से प्रभावित होकर सुन्दर सुन्दर चमकीले पत्थर चुन चुन कर बीनने बटोर कर  इकट्ठा कर लेते है ।फिर जब हम घर चलने लगते .है तो मन करता है की हम  इन पत्थरो को अपने साथ रख ले पर फिर सोचते है की आखिर हम  इन पत्थरो को घर लेजाकर क्या करेगे और पत्थरो को नदी मे ही छोड  आते .है ।
कुदरत की इस अनुपम कलॉ कृति "बालू रेत के रंगीन पत्थरो " का अगर  उपयोग किया जाए तो मकानों की दीवारो और फर्श की सजाबट के लिए यह पत्थर बडे काम की चीज है । लोग मकान बनाने के लिए बालू लाते है और  उसमे से इन रंगीन पत्थरो को छान कर  बेकार समझकर फेक देते है । अगर सूझबूझ से इन पत्थरो का उपयोग मकान की दीवारों पर कलॉ कृतियॉ बनाने मे किया जाए तो इन रंगीन पत्थरो का सद  उपयोग होगा । अभी तक तो रेत ले निकले रंगीन पत्थरो का उपयोग सीमेंट की टाइलस बनाने मे किया जा रहा है ।इसके अलाबा इनका कही कोई विशेष उपयोग नही होता …